घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए और इसके लाभ क्या है?

दोस्तों यदि आप अमीर नहीं है और आपको पैसों की तंगी का सामना करना पड़ता है, तो आपने जरूर यह सोचा होगा कि आपका नसीब ऐसा क्यों है, और इसके लिए आपने कई लोगों से परामर्श भी किया होगा।

उन सभी में से किसी एक ने यह जरूर आप से कहा होगा कि आपको कछुआ पालना चाहिए। कछुआ पालने से धन संपदा आती है, और दिमाग का बोझ भी हट जाता है

लेकिन हो सकता है आपने अभी तक कछुआ ना पाला हो और आप कछुआ पालने से पहले यह जानना चाहते हैं कि कौन सा कछुआ पालना चाहिए? कछुए कितने तरह के होते हैं? कछुए पालने से क्या फायदा होता है?

तो आज हम आपको कछुए को पालने को लेकर सारी जानकारी प्रदान करेंगे। तो चलिए शुरू करते हैं

कछुआ क्या होता है? | What is a turtle?

दोस्तों, कछुए को कूर्म नाम से भी जाना जाता है। आपने भगवान विष्णु के कूर्म/कच्छप अवतार के बारे में जरूर सुना होगा। जिसमें भगवान विष्णु कछुए का अवतार धारण करके अपने पीठ पर पहाड़ रखकर समुद्र मंथन पूरा करते हैं।

कछुआ इसी प्रकार का जीव होता है। इसे टेस्टूडिनीअस नामक सरीसृप की प्रजाति का माना जाता है। यह एक ऐसा जीव होता है पानी और धरती दोनों पर विचरण कर सकता है।

कछुए की पसलियां अत्यधिक विकसित होती है और यह विकसित होकर इसके कवच के रूप में बदल जाती है, और यह कवच एक डाल जैसा होता है जो काफी मजबूत होता है।

ऐसा माना जाता है कि तकरीबन 15 करोड़ साल पहले कछुआ धरती पर पैदा हुआ था। यह सांप और मगरमच्छ से भी पहले पैदा हुआ था। कछुए की कई प्रजातियां आज के समय विलुप्त हो चुकी है।

लेकिन कछुए की 327 प्रजातियां आज भी अपने अस्तित्व में हैं। हालांकि इनमें से कुछ को जान का खतरा है। आमतौर पर एक कछुए की उम्र 300 साल तक हो सकती है, लेकिन यह सही वातावरण ना मिलने पर जल्दी ही दम तोड़ देता है।

कछुए कितने प्रकार के होते हैं? | Types of Turtle?

मित्रों कछुए की कई प्रजातियां और कई प्रकार होते हैं। इनमें से कई कछुए काफी शांत स्वभाव के होते हैं, और कुछ आक्रामक भी होते हैं, हालांकि इनमें से कुछ जहरीले भी हो सकते हैं।

कुछ कछुए अत्यंत विशाल होते है, और कुछ कछुए अंगूठे के नाखून जितने छोटे हो सकते हैं। इनके कुछ प्रकार हमने आपको नीचे बताए हैं:-

kachhua kitne prakar ke hote hain

  • अफ्रीका के हेलमेट वाला कछुआ
  • कॉमन बॉक्स टर्टल
  • सूअर की नाक वाला कछुआ
  • रेगिस्तानी कछुआ
  • चमड़े का कवच वाला समुद्री कछुआ
  • ओरनेट बॉक्स टर्टल
  • लंबी गर्दन वाला कछुआ
  • हरे सागर का कछुआ
  • मगरमच्छ के आकार जैसा कछुआ
  • एशिया का जायंट कछुआ
  • कॉमन मस्क टर्टल
  • कॉमन स्नैपिंग टर्टल
  • पूर्वी अफ्रीका का काला कछुआ
  • हीरो जैसी पीट वाला कछुआ
  • मलेशिया का जॉइंट कछुआ

और भी कई सारे कछुए के प्रकार हैं यदि आप इनके बारे में जानना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं।

घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए?

दोस्तों, यदि आप अपने जीवन में आगे बढ़ना चाहते हैं और तरक्की के मार्ग पर बढ़ते रहना चाहते हैं, तो आपको अपने घर में काला कछुआ जरूर रखना चाहिए।

काला कछुआ समृद्धि का प्रतीक है। काला कछुआ घर में रहने से धन संपदा काफी तेजी से आती है। कई लोगों ने घर में काले कछुए को रखकर अपनी नौकरी छोड़ दी, और बिजनेस करने लग गए।

इसलिए कहा जाता है कि काला कछुआ काफी शुभ रहता है, और आपकी तरक्की का मार्ग प्रशस्त करता है। हालांकि आपको यह ध्यान रखना है कि आपको कभी भी घर में केवल एक कछुआ नहीं रखना है। आप कम से कम एक जोड़ा साथ में रखना है।

कछुए की उम्र क्या होती है? | Age of Turtle?

कछुए की उम्र आमतौर पर 50 वर्ष से 500 वर्ष तक हो सकती है। परंतु सही वातावरण ना मिलने पर ज्यादातर जल्दी ही दम तोड़ देते है। जब कछुए झुण्ड में पैदा होते हैं, तब 50% कछुए पैदा होते ही मर जाते हैं।

उनमें से कुछ कछुए तकरीबन 30 वर्ष की आयु प्राप्त करते हैं, 1000 में से 5 कछुआ 200 वर्ष से अधिक आयु प्राप्त करते है, लेकिन इनमें से कुछ कछुए ऐसे होते हैं जो 500 वर्ष तक की आयु प्राप्त कर लेते हैं।

घर में कछुआ पालने के फायदे

घर में कछुआ रहने से कई फायदे होते हैं यह फायदे कुछ इस प्रकार है-

  • कछुए को एक शांतिप्रिय जीव माना जाता है, जो लंबे समय तक जीवित रहता है।
  • यह जहां पर रहता है लोगों को शांत स्वभाव का और मृदुभाषी बना देता है।
  • घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है।
  • घर में विष्णु भगवान का एक अवतार रहता है।
  • घर में लक्ष्मी माता का आगमन होता है।
  • हिंदू धर्म के अनुसार कछुआ काफी शुभ माना जाता है, कछुआ लंबी आयु प्रदान करता है।
  • काला कछुआ देखने में भी अच्छा लगता है।
  • कछुआ पालने से सुख-समृद्धि बनी रहती है।
  • वास्तु शास्त्र में कछुआ काफी लाभदायक है।
  • कछुआ रखने से संतान की प्राप्ति भी होती है।
  • यदि आपकी घर में कछुआ रहता है तो आपको नजर नहीं लगती।

यह सभी फायदे कछुए के घर में होने से होते हैं।

निष्कर्ष

आजकल एक में हमने आपको यह बताया कि कछुआ क्या होता है, कितने प्रकार का होता है, इसकी उम्र कितनी होती है, और हमे अपने घर में कौन सा कछुआ पालना चाहिए।

आज हमने आप कछुए के बारे में सारी जानकारी प्रदान की है। हम आशा करते हैं कि ये लेख आपके लिए काफी मददगार रहा होगा।

यदि आपको इस लेख से संबंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप हमे कॉमेंट बॉक्स में कॉमेंट कर के पूछ सकते हैं। यदि आपको ये लेख पसंद आया हो तो कृपया इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

FAQ

कौन सा कछुआ पालना शुभ होता है?

कछुआ धन का सूचक है, अगर किसी को धन संबंधी परेशानी है तो उसे क्रिस्टल वाला कछुआ लाना चाहिए।

कौन सा असली कछुआ घर के लिए अच्छा है?

चांदी का कछुआ आर्थिक संबंधों के लिए फायदेमंद होता है, जबकि काला कछुआ पेशे के लिए अच्छा होता है। क्रिस्टल कछुआ धन संबंधी परेशानियों को दूर रखता है। कछुआ धन और स्थिरता के संरक्षण में भी योगदान देता है। अब आप जानते हैं कि क्या घर में जीवित कछुआ होना सौभाग्य की बात है।

कछुआ पालना अपराध है क्या?

उल्लेखनीय है कि वन्य जीवों और पक्षियों को रखना, नुकसान पहुंचाना और मारना वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के तहत अपराध की श्रेणी में आता है। डीएफओ राजीव चतुर्वेदी ने बताया कि तारा प्रजाति के इस कछुए को अजयसर बड़ी नाल पहाड़ी वन क्षेत्र में छोड़ा गया था. आरोपित पर पांच हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

कछुए को पानी में कितनी देर तक रखना चाहिए?

अपने बच्चे के कछुए को सप्ताह में कुछ बार पानी में डालें। कछुए के लिए हाइड्रेटेड रहना महत्वपूर्ण है, खासकर जब वह युवा हो। जब आप पहली बार अपने कछुए को घर लाते हैं, तो आपको उसे सप्ताह में कुछ बार पानी में रखना चाहिए, यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उसका सिर पानी से ऊपर रहे, ताकि वह पूरी तरह से हाइड्रेटेड महसूस कर सके।

Leave a Comment